बोरिक एसिड के गुण उपयोग और जानकारी Boric acid in Hindi

बोरिक एसिड के गुण उपयोग और जानकारी Boric acid in Hindi

 

बोरिक एसिड क्या होता है (What is Boric Acid)

बोरिक एसिड एक यौगिक है, इसका रासायनिक सूत्र H3BO3 होता है। इसके एक अणु में हाइड्रोजन के तीन परमाणु बोरोन का एक परमाणु और ऑक्सीजन के तीन परमाणु होते हैं। बोरिक एसिड को हाइड्रोजन बोरेट, बोरैसिक एसिड और ऑर्थोबोरिक एसिड भी कहा जाता है। यह एक कमजोर एसिड है, लेकिन इसमें एंटीवायरल, एंटीफंगल और एंटीसेप्टिक गुण होते हैं। इसे किसी भी खनिज एसिड जैसे हाइड्रोक्लोरिक एसिड के साथ बोरेक्स (सोडियम टेट्राबोरेट डेकाहाइड्रेट) से प्रतिक्रिया करके तैयार किया जा सकता है। आमतौर पर यह रंगहीन क्रिस्टल के रूप में या सफेद पाउडर के रूप में पाया जाता  है।

boric-acid-in-hindi, बोरिक-एसिड-क्या-होता-है, बोरिक-एसिड-के-गुण, बोरिक-एसिड-के-उपयोग, बोरिक-एसिड-की-जानकारी,

बोरिक एसिड के गुण (Properties of Boric Acid in Hindi)

  • बोरिक एसिड एक कमजोर एसिड है, जिसमें एंटीवायरल, एंटीफंगल और एंटीसेप्टिक गुण होते हैं।
  • सामान्य तापमान पर बोरिक एसिड ठोस अवस्था में पाया जाता है, तथा रंगहीन, गंधहीन, क्रिस्टलीय ठोस पदार्थ के रूप में दिखाई देता है।
  • इसका गलनांक (Melting Point) 170. 9 डिग्री सेल्सियस और इसका क्वथनांक (Boiling Point) 300 डिग्री सेल्सियस होता है।
  • इसका घनत्व 1.435 ग्राम प्रति घन सेंटीमीटर होता है।
  • जल में इसकी घुलनशीलता जल के तापमान के साथ घटती बढ़ती रहती है, यह ठन्डे जल में कम घुलनशील होता है, जबकि गर्म जल में अधिक घुलनशील होता है। इसके अलावा यह इथेनॉल, मेथनॉल, ग्लिसरॉल में भी घुलनशील होता है।
  • इसे 170 डिग्री सेल्सियस से अधिक तापमान पर गर्म करने पर यह निर्जलीकृत (Dehydrate) होकर मेटाबोरिक एसिड (HBO2) का निर्माण करता है। H3BO3 → HBO2 + H2O
  • 300 डिग्री सेल्सियस के तापमान पर गर्म करने पर यह टेट्राबोरिक एसिड और जल बनाता है। 4HBO2 → H2B4O7 + H2O
  • 330 डिग्री सेल्सियस के तापमान पर गर्म करने पर यह बोरॉन ट्रायऑक्साइड और जल बनाता है।  H2B4O7 → 2B2O3 + H2O

 

बोरिक एसिड के उपयोग (Uses of Boric Acid in Hindi)

  • बोरिक एसिड तिलचट्टे, चूहों और मक्खियों के लिए एक प्रभावी कीटनाशक है।
  • बोरिक एसिड और इसके सोडियम बोरेट लवण कीड़ों, मकड़ियों, घुन, शैवाल, मोल्ड, कवक और खरपतवार के खिलाफ उपयोग किए जाने वाले कीटनाशकों में उपयोग किये जाते हैं।
  • पौधों में बोरॉन की कमी के इलाज के लिए व्यापक रूप से इसका प्रयोग किया जाता है।
  • इसका उपयोग लकड़ी के लिए अग्निरोधक एजेंट के रूप में किया जाता है। इसके अलावा बोरिक एसिड लकड़ी को फफूंद और कीड़ों के हमले से बचाने में भी मददगार है।
  • इसके ज्वाला-प्रतिरोधी गुणों के कारण, फर्नीचर, गद्दे और इन्सुलेशन के निर्माण में बोरिक एसिड का व्यापक रूप से उपयोग किया जाता है। 
  • बोरिक एसिड समुद्री जल में कम आवृत्ति वाली ध्वनि के अवशोषण में महत्वपूर्ण योगदान देता है। 
  • इसका उपयोग कांच, मिट्टी के बर्तनों, तामचीनी, ग्लेज़, सौंदर्य प्रसाधन, सीमेंट, चीनी मिट्टी के बरतन, चमड़े, कालीन, टोपी, साबुन, कृत्रिम रत्नों के निर्माण में, छपाई, रंगाई, पेंटिंग और फोटोग्राफी में किया जाता है।
  • बोरिक एसिड को स्विमिंग पूल केमिकल कहा जाता है क्योंकि यह रखरखाव के लिए अत्यधिक उपयोगी साबित हुआ है। यह पूल के पानी के पीएच स्तर को स्थिर करने और शैवाल की समस्याओं को रोकने में मदद कर सकता है। यह पूल में आवश्यक क्लोरीन की मात्रा को कम करता है तथा पानी को साफ और चमकदार बनाए रखने में मदद कर सकता है।
  • इसका उपयोग औद्योगिक रूप से फाइबरग्लास, घरेलू ग्लास उत्पादों और लिक्विड क्रिस्टल डिस्प्ले (एलसीडी) में उपयोग किए जाने वाले ग्लास के निर्माण के लिए किया जाता है। 
  • यह मनुष्यों और पालतू जानवरों दोनों में विभिन्न प्रकार के कान के संक्रमण के उपचार में भी सहायक है। 
  • बोरिक एसिड का उपयोग वैल्डरों द्वारा वेल्डिंग फ्लक्स के लिए भी किया जाता है।
  • एंटीसेप्टिक और जीवाणुरोधी के रूप में भी इसका उपयोग किया जाता है, परन्तु इसका लगातार उपयोग किया जाना हानिकारक हो सकता है। 
  • पेट्रोलियम या वनस्पति तेल के साथ इसका मिश्रण एक उत्कृष्ट लुब्रीकेंट के रूप में काम करता है जिसका उपयोग सिरेमिक या धातु की सतहों पर किया जा सकता है। 
  • बोरिक एसिड का उपयोग कुछ परमाणु ऊर्जा संयंत्रों में न्यूट्रॉन जहर के रूप में किया जाता है। 

 

अन्य जानकारी (Other information)

  • बोरिक एसिड और बोरेट लवण प्राकृतिक रूप से पाए जाने वाले तत्व बोरॉन के रूप में चट्टानों, मिट्टी, पौधों और पानी में प्राकृतिक रूप से मौजूद होते हैं।
  • यह प्राकृतिक रूप से सब्जियों, अधिकांश फलों, अनाज और नट्स में सूक्ष्म मात्रा में मौजूद होता है। यह प्रकृति में होने वाली बहुत कम मात्रा में जहरीला नहीं होता है। परन्तु , बड़ी मात्रा में निगलने पर या साँस लेने पर बोरिक एसिड जहरीला होता है। बोरिक एसिड की उच्च सांद्रता शरीर में जाने पर संभावित रूप से प्रजनन समस्या, गुर्दे की संभावित क्षति, अंतःस्रावी व्यवधान, यकृत एंजाइमों में वृद्धि, पेट में दर्द, एलर्जी की प्रतिक्रिया, जलन, जलन, केंद्रीय तंत्रिका तंत्र (सीएनएस) उत्तेजना, सीएनएस अवसाद, दस्त, दाने, और उल्टी करना जैसी समस्याएं हो सकती है, इसके अलावा गंभीर मामलों में मृत्यु तक हो सकती है। 
  • किसी भी खनिज एसिड के साथ बोरेक्स (सोडियम टेट्राबोरेट डेकाहाइड्रेट) से प्रतिक्रिया करके बोरिक एसिड तैयार किया जा सकता है।

 

यह भी पढ़ें 

error: Content is protected !!