पोटैशियम नाइट्रेट KNO3 के गुण उपयोग और जानकारी Potassium Nitrate in Hindi

पोटैशियम नाइट्रेट KNO3 के गुण उपयोग और जानकारी  Potassium Nitrate in Hindi

पोटैशियम नाइट्रेट क्या होता है (What is Potassium Nitrate)

पोटैशियम नाइट्रेट को साल्टपीटर और कल्मी शोरा के नाम से भी जाना जाता है, यह एक अकार्बनिक यौगिक है, यह एक सफ़ेद रंग का गंधहीन, क्रिस्टलीय ठोस पदार्थ होता है। इसका रासायनिक सूत्र KNO3 होता है, इसके एक अणु में पोटैशियम का एक परमाणु, नाइट्रोजन का एक परमाणु और ऑक्सीजन के तीन परमाणु होते है। यह एक बहुत अच्छा नाइट्रोजन और ऑक्सीजन का स्रोत है। यह एक प्रबल ऑक्सीकारक पदार्थ है, जो गर्म करने पर विघटित हो जाता है और ऑक्सीजन छोड़ता है। यह पोटेशियम आयनों K+ और नाइट्रेट आयनों NO3- का आयनिक साल्ट है, इसलिए यह एक क्षार धातु नाइट्रेट है। पोटैशियम नाइट्रेट प्रकृति में एक खनिज के रूप में पाया जाता है, जिसे नाइटर (Niter) कहा जाता है।

पोटैशियम नाइट्रेट KNO3 के गुण, पोटैशियम नाइट्रेट क्या होता है, पोटैशियम नाइट्रेट KNO3 के उपयोग, पोटैशियम नाइट्रेट KNO3 की जानकारी,  

 

पोटैशियम नाइट्रेट KNO3 के गुण (Potassium Nitrate Properties in Hindi)

  • पोटैशियम नाइट्रेट घनत्व 2.11 ग्राम प्रति घन सेंटीमीटर होता है।
  • पोटैशियम नाइट्रेट का गलनांक (Melting Point) 334 डिग्री सेल्सियस तथा इसका क्वथनांक (Boiling Point) 400 डिग्री सेल्सियस होता है।
  • पोटेशियम नाइट्रेट गर्म पानी में घुल जाता है, परन्तु ठन्डे पानी में अच्छी तरह नहीं घुलता।
  • पोटेशियम नाइट्रेट को पानी में घोलने पर एंडोथर्मिक (Endothermic) प्रतिक्रिया होती है, जिससे मिश्रण का तापमान कम हो जाता है।
  • पोटैशियम नाइट्रेट को गर्म करने पर यह विघटित हो जाता है और नाइट्राइट तथा ऑक्सीजन उत्पन्न करता है।
  • यह ज्वलनशील नहीं होता, परन्तु जलने योग्य चीजों में  पोटेशियम नाइट्रेट को मिलाने पर यह उनकी जलने  प्रक्रिया को तेज कर देता है।
  • लम्बे समय तक गर्मी या आग के संपर्क में रहने पर इसमें विस्फोट हो सकता है।
  • पोटेशियम नाइट्रेट के जलने पर नाइट्रोजन के जहरीले ऑक्साइड उत्पन्न होते है।
  • पोटेशियम नाइट्रेट जहरीला नहीं होता है।
 

पोटैशियम नाइट्रेट KNO3 के उपयोग (Potassium Nitrate uses in Hindi)

  • पोटैशियम नाइट्रेट का उपयोग उर्वरक के रूप में किया जाता है, इसमें पौधो के लिए आवश्यक सभी सूक्ष्म पोषक तत्व होते है।
  • पोटैशियम नाइट्रेट का उपयोग ऑक्सीडाइजर के रूप में किया जाता है, इसे सिगरेट और अगरबत्ती जैसी जलने वाली वस्तुओं में मिलाया जाता है, जिससे वे बिना बुझे अंत तक पूरी जल पाती है।
  • पुराने समय में ब्लैकपाउडर नाम के बारूद में ऑक्सीडाइजर के रूप में पोटैशियम नाइट्रेट मिलाया जाता था।
  • कई तरह के विस्फोटक, बारूद, गनपाउडर और पटाखों में पोटैशियम नाइट्रेट का उपयोग ऑक्सीडाइजर के रूप में किया जाता है।
  • खाद्य उद्योग में मांस को ख़राब होने से बचाने के लिए इसका उपयोग किया जाता है।
  • चमड़ा उद्योग में चमड़े के संरक्षण के लिए इसका व्यापक रूप से उपयोग किया जाता है।
  • पुराने समय में नाइट्रिक एसिड का उत्पादन करने के लिए भी इसका उपयोग किया जाता था।
  • कई तरह की दवाओं के निर्माण में भी पोटैशियम नाइट्रेट का उपयोग किया जाता है जैसे:- मूत्रवर्धक ओषधियो के निर्माण में इसका उपयोग किया जाता है, संवेदनशील दांतो की संवेदनशीलता को कम करने के लिए इसे टूथपेस्ट मिलाया जाता है।

 

स्वास्थ्य सम्बंधित सावधानियां 

पोटेशियम नाइट्रेट के अधिक संपर्क में आने से आंखों और त्वचा में जलन हो सकती है।

सांस लेते समय पोटेशियम नाइट्रेट के सेवन से नाक में जलन हो सकती है, जिससे छींक, गले में कफ और खांसी हो सकती है। अधिक लम्बे समय तक इसके संपर्क में रहने पल्मोनरी एडिमा हो सकता है। यह एक मेडिकल इमरजेंसी है जिसमें फेफड़ो में फ्लूइड जमा हो जाता है, और फेफड़े काम करना बंद कर सकते है, गंभीर परिस्थिति में इससे मृत्यु भी हो सकती है।

रक्त में पोटेशियम नाइट्रेट की उच्च सांद्रता रक्त की ऑक्सीजन ले जाने की क्षमता को प्रभावित कर सकती है, जिससे  सिरदर्द, थकान, चक्कर आना, और नीली त्वचा और नीले होंठ जैसे लक्षण दिखाई दे सकते है।

अन्य महत्वपूर्ण जानकारी 

यह भारत, दक्षिण अफ्रीका और ब्राजील के विभिन्न भागों में चट्टानों में नाइटर खनिज के रूप में प्राकृतिक रूप से पाया जाता है।

पुराने समय में उच्च रक्तचाप को कम करने के लिए इसका उपयोग किया जाता था।

उच्च तापमान पर नाइट्रिक एसिड (HNO3) और पोटेशियम क्लोराइड (KCl) की प्रतिक्रिया करके पोटेशियम नाइट्रेट का व्यावसायिक उत्पादन किया जाता है: –

3KCl + 4HNO3 → 3KNO3 + Cl2 + NOCl + 2H2O

यह भी पढ़ें 

Leave a Comment

error: Content is protected !!